Sale!
obama-(Hindi)

Mujhe Sahishnuta Mat Sikhao – BHARAT

199.00 160.00

497 in stock

SKU: India_Hindi Category:

Product Description

‘मुझे सहिष्णुता मत सिखाओ – भारत’ इस किताब में पहले व्यक्ति के दृष्टिकोण से ब्रह्मांड और सभी प्रकृतिक पदार्थों की उत्पत्ति के बारे में विस्तार से बताया गया है तथा सृष्टि रचना के दौरान उन सभी पदार्थों की महान सहिष्णुता को भी दर्शाया गया है.

यह किताब वास्तविक सहिष्णुता को परिभाषित करती है और उसी तर्ज पर भारत और भारत के राजनीतिक दलों तथा धर्मों की सहिष्णुता को परखती है. इसमें भारत के कुछ भूतपूर्व प्रधानमंत्रियों की और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उनके पद के प्रति सहिष्णुता की समीक्षा की गई है जिसमें मोदी जी की सम्पूर्ण सायकोएनालिसिस शामिल है कि वे क्या और कैसे सोचते हैं और उनके दिमाग में वास्तव में क्या चल रहा है; जैसे उन्होंने क्या किया, क्या करना शेष रह गया; उन्हें क्या करना चाहिए और क्या नहीं.

सहिष्णुता एक व्यापक शब्द है जिसका किसी भी व्यक्ति या राष्ट्र की सुख और समृद्धि से सीधा ताल्लुक है. इस किताब में भारत के लंबे अरसे तक गुलाम बने रहने के कारण दिए गए हैं तथा भविष्य के खतरों से सावधान भी किया गया है.

इस किताब का जोर इस बात पर है कि भारत के युवाओं को सही रास्ता दिखाना तथा उनके द्वारा सहिष्णुता अपनाते चले जाना ही प्रगति का एकमात्र उपाय है क्योंकि यह नियम है कि जो जितना सहिष्णु है वह उतनी प्रगति करता है.

यह किताब अमेरिका के भूतपूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत यात्रा के दौरान भारतियों को सहिष्णुता का पाठ पढ़ाने की उनकी कोशिश के बाद लिखी गई है. उन्हें करारा जवाब देते हुए इस किताब में ‘भारत’ एक राष्ट्र के तौर पर भारतियों की हर मोर्चे पर सहिष्णुता को भी तौलता है.

यह किताब सभी के लिए अनमोल है जिससे अपनी सहिष्णुता की जांच कर हरकोइ सुख और समृद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ सकता है. यह किताब भारत को आगे ले जाने का मार्गदर्शक है, लेकिन यह तब तक संभव नहीं होगा जब तक हर नागरिक समृद्ध नहीं होगा जिसके लिए उसका सहिष्णु होना आवश्यक है.

Additional Information

Weight 181 kg
Dimensions 14 x 1.5 x 19 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Mujhe Sahishnuta Mat Sikhao – BHARAT”

Your email address will not be published. Required fields are marked *